Feedback Us !

Checking...

Ouch! There was a server error.
Retry »

Sending message...

Review It !

0 100

Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide

श्री भूपेन्द्रसूरीजी म.सा.

 

श्री भूपेन्द्रसूरीजी म.सा.

 

आपका जन्म भोपाल(म.प्र.) में वि.सं. १९४४ वैशाख सूद ३ में हुआ| पिता का नाम श्री भगवानजी व माता का नाम श्रीमती सरस्वतीदेवी था| आपके माता-पिता ने आपका नाम देवीचंद रखा| ८ वर्ष की उम्र में पिता की मृत्यु हो गई| वि.सं. १९५२ वैशाख सुद ३ के शुभ दिन अलीराजपुर में आपकी दीक्षा पू. राजेंद्रसूरीजी के पास हुई और दीपविजयजी नाम रखा| १९८० में द्वितीय जेठ सुद ८ शुक्रवार को आचार्य पद दिया गया वि.सं. १९९० के सम्मेलं में आपके सरल स्वभाव और समवन्य वृति से प्रभावित हो, क्षेठ समिति में शामिल किया गया|

आपकी बुद्धि कुशलता देखकर ही पू. राजेंद्रसूरीश्वर्जी ने “अभीधान राजेंद्र कोष” का सम्पादन कार्य आप और मुनि यतीन्द्रविजयजी को दिया| आपके ५ शिष्य – दानविजयजी, कल्याण विजयजी आदि थे| “चंद्रराज चरित्र” आदि प्रमुख कृतियों आपकी विद्धाता को दर्शाती है| वि.सं. १९९३ माघ सुदी ७ को ५० वर्ष की अल्पायु में ही आप आहोर में परलोक प्रयाण कर गए|

Vyaktitv(Chief Patron)
slide
slide
slide
slide
slide
Shraddhanjali
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
News
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Suvichar
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide