Feedback Us !

Checking...

Ouch! There was a server error.
Retry »

Sending message...

Review It !

0 100

Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide

श्री संभूतिविजयजी म.सा.

 

श्री संभूतिविजयजी म.सा.

 

आप मखर गोत्र के प्रखर विद्धान ब्रहमान थे| उनकी उपदेश देने की शैली जबरदस्त, तेजस्वी व असरदार थी| उन्होंने यशोभद्रसूरीजी के उपदेश से यथार्थ ब्रहमान बनने के लिए जैन धर्म की दीक्षा को स्वीकारा था| उनका कुल आयुष्य ९० वर्ष का था, उसमें ४२ वर्ष गृहस्थ जीवन में, ४० वर्ष सामान्य मुनि जीवन में व ८ वर्ष युगप्रधान के रूप में व्यतीत हुए थे| उनके छोटे गुरु भाई भद्रबाहूस्वामीजी थे जो अपने निम्मित ज्ञान द्वारा प्रभावक बने|

Vyaktitv(Chief Patron)
slide
slide
slide
slide
slide
Shraddhanjali
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
News
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Suvichar
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide