Feedback Us !

Checking...

Ouch! There was a server error.
Retry »

Sending message...

Review It !

0 100

Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide

Shree Vimalchandji Aanandrajji Sanghvi

 

संघवी विमलचंद आनंदराजजी वेदमुथ्था

गोडवाड़ में भूति/हाल पुणे

संस्थापक अध्यक्ष 

जय जिनेन्द्र सेवा संघ, पुणे

Vimalchandji Sanghvi

            संवत् २०१५ , जेठ वदी ३०, शनिवार, ६ जून, १९५९ को कर्नाटक के मैसूर शहर में पिता आनंदराजजी एवं माता बदामीबाई की कुक्षी से जन्मे श्री विमलचंदजी आनंदराजजी संघवी विरल प्रतिभा के धनि है| आपके ४ भाई व ४ बहने है| आपके परिवार में पत्नी के साथ एक विवाहित पुत्री तथा एक पुत्र है| आपकी प्रारंभिक शिक्षा अपनी मातृभूमि भूति (जिला-जालोर, राजस्थान) में हुई तथा माध्यमिक सिक्षा जन्मभूमि मैसूर में हुई |

 

            आपके परिवार की पृष्ठभूमि सामाजिक रही है| आपके परदादा स्व. शा देविचंदजी रामाजी समाजसेवा तथा धर्मसेवा में अग्रणी थे| वे मैसूर दरबार में दरबारी पद पर नियूक्त थे| मैसूर जिनमंदिर प्रतिष्ठा में उन्होंने उल्लेखनीय योगदान दिया था| इस प्रतिष्ठा मोहत्सव में खुद मैसूर दरबार भी उपस्थित थे|

 

            बचपन से ही आप मेधावी रहे है| विभिन्न गतिविधियो में संलग्नता, धार्मिक पूजा पढ़ना, मंडल का गठन व अन्य गावो में भी पूजा पढ़ाने हेतु जाना, यह सब आपकी विशेष रूचि के कार्य रहे है| आप विश्व वंदनीय गुरुदेव श्री राजेन्द्रसुरिश्वर्जी के अनन्य भक्त है|

 

            बाल्यकाल से ही आपकी संगीत में विशेष रूचि रही है| मालवाडा जालोर में हुई अंतर स्कूल सांस्कृतिक प्रतियोगिता में आपको विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया गया |

 

            आपने स्कूली शिक्षा मैसूर में पूर्ण करने के पश्चात् वहां पर कुछ वर्ष संघर्षपूर्ण जीवन जीने के पश्चात् सन १९७९ ई. में पूना आकर हार्डवेयर शेत्र में नौकरी प्रारंभ किया| सन १९८२ ई. में विवाह कर गृहस्थ जीवन का प्रारंभ किया| सन १९८२ ई. में ही स्टील बर्तनों का व्यवसाय प्रारंभ किया| वो समय काफी संघर्षपूर्ण रहा| उस समय श्री जैन यूवक संगठना से जुड़ने का मौका मिला| वहा पर विभिन्न सामजिक गतिविधियों का प्रारंभ हुआ, जहां विभिन्न पदों पर कार्य करने का मौका मिला| सन १९८७ ई. में श्री राजेंद्र सेवा मंडल पुणे की स्थापना की| उसके माध्यम से प्रथम बार मोहनखेड़ा तीर्थ यात्रा का आयोजन किया| उस निमित्त मोहनखेड़ा तीर्थ का नक्शा पहली बार प्रकाशित किया| जिसकी अब तक लाखो प्रतियाँ छप चुकी है| इस तरह दोनों संस्थाओं में सक्रीय रहे| सन १९९७ ई. में साधार्मिक सेवा संघ की स्थापना कर समाज के पिछड़े वर्ग की सहायता प्रारंभ की| पुणे से प्रथम बार विशेष रेल का संचालन श्री सम्मेतशिखरजी यात्रा के लिए किया, जिसमे १५० साधर्मिको को नि:शुल्क यात्रा करवाई गई| श्री पालीताणा-गिरनार-कच्छ भद्रेश्वर तीर्थ यात्रा का संचालन किया, जिसमे ५५० यात्रियो ने भाग लिया|

 

            १५ अगस्त, १९९८ को पुणे महानगरपालिका की ओर से विधायक श्री चंद्रकांतजी छाजेडमहापौर वत्सलाताई आंदेकर के करकमलों से धार्मिक व् सामाजिक क्षेत्र में आपके द्वारा  किए गए कार्य हेतु आपको “स्मृति चिन्ह” द्वारा सम्मानित किया गया|

 

            अपनी सेवाओं को विस्तृत रूप देने व् उसका दायरा बढ़ाने के उधेशय से दी. २७.०५.२००९ को जय जिनेन्द्र सेवा संघ, पुणे की स्थापना आपके नेतृत्व में हुई | जिसके माध्यम से श्री सम्मेतशिखरजी यात्रा का आयोजन किया गया, जिसकी बुकिंग हेतु यात्रिगन १८ घंटे पूर्व लाइन में खड़े थे| उसके पश्चात १०८ पार्श्वनाथ तीर्थ यात्रा, पंजाब-हिमाचल-जम्मू कश्मीर यात्रा संघ, कुंभोज गिरी-कुंथलगिरी-पार्श्वपुरम यात्रा संघ , १०० श्वेत सुमो द्वारा राजेन्द्रगुरु शताब्दी वर्ष निम्मित श्री मोहनखेड़ा यात्रा , श्री कुलपाकजी-गुडीवाडा-पेदमीरम-गुम्मीलेरु तीर्थ यात्रा, श्री पेदतुम्बलम-पार्श्वमणि-आदोनी तीर्थ यात्रा, २४ तिर्थंकरो की १२० कल्याणक भूमि यात्रा , श्री पार्श्वमणि-पेदतुम्बल-महावीरधाम कर्नुल यात्रा संघ, श्री भद्रावती-उवस्सगहर-ओडिसा कटक यात्रा संघ ,श्री नागेश्वर-मोहनखेड़ा-घसोई-परासली तीर्थ यात्रा संघ, श्री अयोध्यापुरम-पालीताणा छ:री पालक यात्रा संघ आदि के आयोजन का विरत अनुभव इन्हें है|

 

            अनेको संस्थाओं द्वारा सम्मानित, आपको हाल ही में नाकोडा दरबार (मंडल) लालबाग, मुंबई द्वारा “तीर्थप्रभावक पद” से सम्मानित किया गया |

 

            प्रत्एक तीर्थयात्रा के आयोजन समय संबंधित तीर्थो की विस्तृत जानकारी देती स्मारिकातीर्थ निर्देशिका का प्रकाशन आपकी विशेष रूचि है|

 

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (If you liked it,Please rate this post)

Loading...
Vyaktitv(Chief Patron)
slide
slide
slide
slide
slide
Shraddhanjali
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
Search Here
News
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Suvichar
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .
slide
slide
slide
slide
slide
slide
slide
Advertisement

slide
slide
slide
slide
slide